जयशंकर की मौजूदगी में हुई थी मोदी-ट्रंप की बातचीत: राजनाथ सिंह

  • by Yogesh
  • July 24, 2019

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के कश्मीर पर मध्यस्थता बाले बयान के बाद से ही विपक्षी पार्टियां भारतीय जनता पार्टी पर निशाना साध रही है। हाल ही में संसद में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने जैसे ही अपनी बात रखी, विपक्ष वॉकआउट कर गया। इसके बाद स्पीकर ने विपक्षी सांसदों से कहा कि वे रक्षा मंत्री का बयान सुनकर जाएं। जिसके बाद राजनाथ सिंह ने कहा कि, “कांग्रेस सदस्यों ने वादाखिलाफी की है और सत्तापक्ष की बात सुने बगैर ही चले गए।,”

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि,

“प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और ट्रंप के बीच जब बात हो रही थी, तब विदेश मंत्री एस जयशंकर खुद वहां मौजूद थे, कश्मीर के सवाल पर किसी की मध्यस्थता स्वीकार करने का कोई सवाल ही नहीं है, क्योंकि यह शिमला समझौते के विपरीत होगा।,”

राजनाथ सिंह ने कहा कि,

“यह हमारे राष्ट्रीय स्वाभिमान का विषय है और हम मध्यस्थता किसी भी सूरत में स्वीकार नहीं कर सकते, पाकिस्तान के साथ सिर्फ कश्मीर पर नहीं बल्कि पीओके पर भी बातचीत होगी, राजनाथ सिंह ने कश्मीर पर साफ कर दिया है, ट्रंप के साथ इस पर कोई बातचीत नहीं हुई है।,”

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कांग्रेस पर वादा न निभाने का आरोप लगाते हुए कहा कि,

“वे सरकार का पक्ष नहीं सुनना चाहते, जिसका उन्होंने पहले वादा किया था, हम पाकिस्तान से बातचीत को तैयार हैं, लेकिन सिर्फ कश्मीर पर नहीं बल्कि पूरे पीओके व आतंकवाद पर।,”

गौरतलब है कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान इस समय अमेरिकी दौरे पर हैं, उनसे साथ बातचीत के दौरान डोनाल्ड ट्रंप ने कहा था कि,

“एक बैठक के दौरान पीएम मोदी ने मुझसे कश्मीर के मसले पर मध्यस्थता करने को कहा था, जिसके बाद ट्रंप के इस बयान का पाकिस्तान ने भी समर्थन किया था, लेकिन भारतीय विदेश मंत्रालय ने इसका खंडन करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मध्यस्थता की कोई बात नहीं कही है।,”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *