अच्छा हुआ कि चुनाव आयोग को अपनी ताकत का एहसास हुआ और उसने उचित कार्यवाई की: सुप्रीम कोर्ट

  • by Ashutosh Kumar Singh
  • April 16, 2019

आपको याद ही होगा कि कल चुनाव आयोग ने यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को 72 घंटे के लिए और बसपा प्रमुख मायावती को 48 घंटे के लिए रैली और रोड शो करने से बैन कर कर दिया था। इसके बाद बीजेपी की मेनका गाँधी और सपा नेता आजम खान को भी विवादित बयान के चलते ऐसा ही दंड किया गया। 

इन नेताओं को धर्म-जाति और व्यक्तिगत आपत्तिजनक बयानों के चलते आचार संहिता का उल्लंघन करने का दोषी पाया गया है। हालाँकि भले ही यह कार्यवाई सुप्रीम कोर्ट के हस्तक्षेप के बाद ही चुनाव आयोग द्वारा की गई थी, लेकिन चुनाव आयोग द्वारा यह कार्यवाई करने के बाद सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग की तारीफ की है।

देश की सर्वोच्च अदालत ने यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, बसपा सुप्रीमो मायावती, बीजेपी नेता मेनका गाँधी और सपा नेता आजम खान के खिलाफ चुनाव आयोग की कार्रवाई पर संतोष जताया है। 

मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई और न्यायमूर्ति संजीव खन्ना की पीठ ने चुनाव आयोग के कदम की सराहना करते हुए कहा,

“ऐसा लगता है कि मानो चुनाव आयोग को अपनी शक्ति वापस मिल गई है।”

इस बीच हम आपको बता दें कि इस बैन से राहत पाने के लिए मायावतीद्वारा डाली गई याचिका पर सुनवाई करने से शीर्ष अदालत ने इनकार कर दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *